ब्रेकिंग न्यूज़:

Wheatgrass is Superfood but can it reduce cancer risk

[ad_1]

पुरातन काल से हम हर्ब्‍स का प्रयोग कई सारी बीमारियों से लड़ने में कर रहें है, ऐसी ही एक हर्ब है व्हीटग्रास, यानी गेहूं के ज्वारे। यह एक ऐसी प्राकृतिक औषधि है जो आपके शरीर के लिए बहुत फ़ायदेमंद है। व्हीटग्रास विटामिन्स, मिनरल्स, फाइबर और अमीनो एसिड से भरपूर है, जो हमें कई तरह की बीमारियों से बचा सकती है।

व्‍हीट ग्रास में मौजूद खास तत्‍व

सिर्फ रोग ही नही ये त्वचा संबंधी परेशानियों से भी लड़ने में मदद करती है। साथ ही ये आपके मोटापे को बढ़ने नहीं देता है और बालों को स्मूथ एंड सिल्की बनाए रखती है। इसमें कैल्शियम, जिंक और आयरन मौजूद होता है जो आपकी मांसपेशियों को मज़बूत रखता है। हाल के दिनों में इसे कैंसर रोधी हर्ब के रूप में भी प्रस्‍तुत किया जा रहा है। आइए जानते हैं इस दावे में कितनी सच्‍चाई है।

क्‍या कहता है अध्‍ययन

नेशनल सेंटर फॉर बायो टेक्नोलॉजी इनफार्मेशन (National Centre For Biotechnology Information -NCBI) द्वारा Oral squamous cell carcinoma (जो कि मुंह में होने वाला कैंसर है) पर एक शोध किया गया। इस अध्ययन का उद्देश्य यह पता करना था कि व्हीटग्रास के सेवन का, कैंसर सेल्स पर कैसा प्रभाव पड़ता है। अध्ययन में सामने आया कि व्हीटग्रास के रस ने कैंसर सेल्स के प्रभाव को पहले से 15% से लगभग 40% तक कम किया है।
 

wheat grass juice

कुछ अन्य अध्ययनों में पाया गया है कि व्हीटग्रास कैंसर कोशिकाओं को मारने में मदद कर सकती है। एक शोध में व्हीटग्रास जूस ने मुंह के कैंसर सेल्स के प्रसार को 41% तक कम कर दिया था। उपचार के तीन दिनों के भीतर ल्यूकेमिया कोशिकाओं की संख्या 65% तक कम हो गयी थी। पारंपरिक कैंसर उपचार के साथ अगर, व्हीटग्रास का सेवन भी किया जाये तो ये कैंसर के प्रभाव को थोड़ा कम करने में मदद कर सकता है।

क्‍या है अंतिम निर्णय

हालांकि, अभी तक ऐसा कोई शोध नहीं हुआ है जो यह प्रमाणित कर पाए कि व्हीटग्रास कैंसर को पूरी तरह से खत्‍म कर सकती है। इसके बावजूद इसके सेवन के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं। आइए इन्‍हें फायदों के बारे में आपको बताते हैं।

व्हीटग्रास के अन्य फायदे:

1. इन्फ्लमेशन और साइनस में सुधार

शरीर में किसी भी तरह की चोट या सूजन पर आप व्हीटग्रास का प्रयोग कर सकती हैं। इसमें मौजूद कई मिनरल्स सूजन को कम करने में कारगर माने जाते हैं। इसमें एंटी- इन्फ्लमेंट्री गुण होते हैं, जो सूजन कम करते हैं और रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं।

2. दांतों को मजबूती देता है

व्हीटग्रास आपके दांतों के लिए भी काफी अच्छा है। यह पायरिया, मसूड़ों से खून आना, मुंह की बदबू आदि समस्याओं से निजात दिलाता है।

wheat grass juice for oral health

3. पेट के रोगों को दूर करता है

पेट के रोग जैसे गैस बनना, कब्ज़, अपच, भारीपन आदि में भी इसका जूस लाभकारी है। यह मेटाबॉलिज्म को बढाकर पाचनतंत्र में सुधार कर सकती है। साथ ही इसमें मैग्‍नीशियम की मात्रा काफी अधिक होती है, जो अल्सर जैसे रोगों से लड़ने में मदद करता है।

4. बालों में नई जान लाता है

अगर आप भी बालों की समस्या से जूझ रहीं हैं, तो व्हीटग्रास का रोज़ सुबह नियमित सेवन आपके बालों को जड़ों से मज़बूत बनाएगा। इसका जूस बालों को जल्दी सफ़ेद नहीं होने देगा। आपके बाल फिर से घने, काले और मजबूत बन जाएंगे।

5. मोटापे से छुटकारा

जिन लोगों को अपना वज़न कम करना हैं, उनके लिए इसका जूस रामबाण औषधि है। व्हीटग्रास में अधिक मात्रा में फाइबर होता है, जो वज़न घटाने में सहायक है। साथ ही यह वसा को कम करने के लिए भी शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है और थायराइड ग्लैंड को भी नियंत्रित करता है।

 

यह भी पढ़ें : विश्‍व कैंसर दिवस : क्‍या अवांछित गर्भपात हो सकता है वेजाइनल कैंसर के लिए जिम्‍मेदार, आइए पता करते हैं

6. ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है

व्हीटग्रास ब्लड प्रेशर को कम करने का कार्य भी करता है। साथ ही यह ब्लड सर्कुलेशन को नियंत्रित करके अवांछनीय तत्वों को शरीर से बाहर निकालता है। इसमें मौजूद क्लोरोफिल रक्तचाप को सुधारती है जिससे हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है।

 

wheat grass juice for blood pressure

क्‍या है व्हीटग्रास के सेवन का सही तरीका

  • आप व्हीटग्रास का सेवन दिन में कभी भी कर सकती हैं। हालांकि ज़्यादातर लोग इसे सुबह-सुबह लेना पसंद करते हैं।

  • आप खाने से एक घंटा पहले भी इसका सेवन कर सकती हैं, जिससे आपकी बॉडी को ज़रूरी पोषक तत्व मिलेंगे और आप स्वस्थ महसूस कर सकेंगी।

  • व्हीटग्रास आपको पाउडर, जूस या कैप्सूल की तरह बाज़ार में मिल जायेगा। साथ ही आप चाहें तो इसका रस घर पर भी निकाल सकती हैं।

  • इसके अलावा आप इसके रस को सलाद या खाने की चीजों में भी मिलाकर इसका सेवन कर सकती हैं। शुरुआत में व्हीटग्रास को बहुत थोड़ी मात्रा में ही लें।

  • साथ ही उल्टी या सिर दर्द की शिकायत होने पर इसका सेवन तुरत बंद कर दें, क्योंकि कुछ लोगों को इससे एलर्जी होती है।

[ad_2]

Source link

rashtrawadinews_ie0fh4
Author: rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4 has 10283 posts and counting. See all posts by rashtrawadinews_ie0fh4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

hi Hindi
X