ब्रेकिंग न्यूज़:

टाटा केमिकल्स शेयर प्राइस: क्या टाटा के ताज का नया नगीना बन सकता है टाटा केमिकल्स?

[ad_1]

मुंबई: टाटा केमिकल टाटा समूह के ताज का नया नगीना बन सकता है. पिछले तीन महीने में टाटा केमिकल के शेयर में 80 फीसदी तेजी आई है. कंपनी ने विस्तार की बड़ी योजना बनाई है. इसमें इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के लिए लिथियम-आयन सेल, केमिकल और न्यूट्रीशनल एंड एग्री साइंसेज शामिल हैं. शुक्रवार को टाटा केमिकल्स के शेयर का भाव दोपहर बाद 2.56 फीसदी चढ़कर 606.25 रुपये था.

अभी टाटा केमिकल के शेयर में उसकी बुक वैल्यू के 1.11 गुना पर कारोबार हो रहा है. पिछले 12 महीने की कमाई के 20 गुना पर कारोबार हो रहा है. यह केमिकल सेक्टर की दूसरी कंपनियों के शेयरों के मुकाबले सबसे सस्ता है. पिछली पांच तिमाहियों में टाटा ग्रुप ने इस कंपनी में लगातार अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है. सितंबर 2019 तिमाही में इस कंपनी में टाटा समूह की हिस्सेदारी 30.63 फीसदी थी, जो दिसंबर 2020 तिमाही में बढ़कर 37.08 फीसदी हो गई.

निर्मल बंग इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के एनालिस्ट रमेश शंकरनारायणन ने कहा, “इलेक्ट्रिक व्हीकल के बैटरी ईकोसिस्टम में टाटा केमिकल के निवेश से निवेशकों को लंबी अवधि में इसकी ग्रोथ का अनुमान लगाने में मदद मिलेगी. इस बिजनेस में निवेश के लिए लिथियिम बैटरी के टेक्नोलॉजी में डोमेन एक्सपर्टाइज जरूरी है.” टाटा ग्रुप की तीन कंपनियों-टाटा मोटर्स, टाटा केमिकल्स और टाटा पावर ने कंपलीट इलेक्ट्रिक व्हीकल ईकोसिस्टम तैयार करने के लिए मिलकर काम करने की योजना बनाई है.

यह भी पढ़ें :
रिलायंस इंडस्ट्रीज के ऑयल और केमिकल बिजनेस के लिए अलग कंपनी बनाने की क्या है वजह

जगुआर लैंड रोवर (जेएलआर) ने सोमवार को कहा था कि उसका जगुआर लग्जरी ब्रांड 2025 तक पूरी तरह इलेक्ट्रिक बन जाएगा. टाटा केमिकल्स के मैनेजमेंट ने विस्तार पर 2,400 करोड़ रुपये खर्च करने की योजना बनाई है. इसमें से 800 करोड़ रुपये खर्च किए जा चुके हैं. बाकी रकम अगले साल में खर्च की जाएगी. इससे वित्त वर्ष 2024-25 तक कंपनी का रेवेन्यू 1,400 करोड़ रुपये पहुंच जाएगा, जबकि एबिट 600 करोड़ रुपये होगा.

टेक्निकल एनालिस्ट्स का कहना है कि छोटी अवधि में कंपनी का शेयर 620 रुपये पहुंच सकता है. पिछले कुछ समय में इस शेयर में अच्छी तेजी दिखी है. आशिका स्टॉक ब्रोकिंग के एनालिस्ट संदीप पोरवाल ने कहा, “हमें 587 से ऊपर ब्रेकआउट है. इसके बाद आने वाली तेजी में यह शेयर 620 रुपये पर पहुंच जाएगा. 555 से नीचे कीमत आने पर इसमें खरीदारी की जा सकती है. इस शेयर के लिए 542 रुपये पर स्पोर्ट मौजूद है.”

टाटा केमिकल्स की टाटा संस में 2.5 फीसदी हिस्सेदारी है. इसकी वैल्यू 20,000 करोड़ रुपये से ज्यादा है. यह टाटा केमिकल्स के 14,861 करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण से ज्यादा है. रैलीज इंडिया में भी इसकी 50 फीसदी हिस्सेदारी है, जिसकी वैल्यू 2,600 करोड़ रुपये है. टाइटन में इसकी 1.56 फीसदी हिस्सेदारी है, जिसकी वैल्यू 2,000 करोड़ रुपये है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए
यहां क्लिक करें.



[ad_2]

Source link

rashtrawadinews_ie0fh4
Author: rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4 has 10283 posts and counting. See all posts by rashtrawadinews_ie0fh4

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X