ब्रेकिंग न्यूज़:

Akshaya Tritiya 2021 Date Muhurat And Significance Know 14 May Panchang

[ad_1]

Akshaya Tritiya 2021 Date: पंचांग के अनुसार वैशाख मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि 14 मई 2021 शुक्रवार को है. इस तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया कहा जाता है. अक्षय तृतीया पर मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है. इस दिन स्वर्ण खरीदना भी शुभ माना गया है. अक्षय तृतीया की तिथि को बहुत ही शुभ माना गया है. 

अक्षय तृतीया शुभ मुहूर्त 
पंचांग के अनुसार अक्षय तृतीया 14 मई शुक्रवार को पूजा का मुहूर्त सुबह 05 बजकर 38 मिनट से 12 बजकर 18 मिनट तक रहेगा. तृतीया तिथि का समापन 15 मई 2021 की सुबह 07 बजकर 59 मिनट पर होगा. 

अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु और लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है
अक्षय तृतीया पर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है. मान्यता है कि पूजा करने से जीवन में सुख समृद्धि बनी रहती है. इसके साथ ही सभी प्रकार की मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं. अक्षय तृतीया के दिन ही भगवान परशुराम जी जंयती मनाई जाती है. इसी दिन परशुराम जी का जन्म हुआ था. परशुराम जी को भगवान विष्णु का छठा अवतार माना गया है.

पितरों को प्रसन्न करें
अक्षय तृतीया का पर्व पितरों को प्रसन्न करने के लिए शुभ माना गया है. इस दिन पिंडदान करने से पितरों का आशीर्वाद मिलता है. पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होने से जीवन में आने वाली परेशानियां दूर होती हैं. सतयुग और त्रेतायुग का आरंभ अक्षय तृतीया से ही माना जाता है. इसके साथ ही ऐसा माना जाता है कि इस तिथि पर ही द्वापर युग का समापन हुआ था.

Panchang In Hindi: दिनांक: 14 मई 2021 (Panchang 14 May 2021)
विक्रमी संवत्: 2078
मास अमांत: वैशाख
मास पूर्णिमांत: वैशाख
पक्ष: शुक्ल
दिन: शुक्रवार
तिथि: द्वितीया – 05:40:13 तक
नक्षत्र: रोहिणी – 05:44:58 तक
करण: कौलव – 05:40:13 तक, तैतिल – 18:52:42 तक
योग: सुकर्मा – 25:44:44 तक
सूर्योदय: 05:31:14 AM
सूर्यास्त: 19:03:57 PM
चन्द्रमा: वृषभ राशि- 19:13:52 तक
राहुकाल: 110:36:00 से 12:17:35 तक (इस काल में कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है)
शुभ मुहूर्त का समय – अभिजीत मुहूर्त: 11:50:30 से 12:44:41 तक
दिशा शूल: पश्चिम
अशुभ मुहूर्त का समय –
दुष्टमुहूर्त: 08:13:47 से 09:07:58 तक, 12:44:41 से 13:38:52 तक
कुलिक: 08:13:47 से 09:07:58 तक
कालवेला / अर्द्धयाम: 15:27:13 से 16:21:24 तक
यमघण्ट: 17:15:35 से 18:09:46 तक
कंटक: 13:38:52 से 14:33:03 तक
यमगण्ड: 15:40:46 से 17:22:21 तक
गुलिक काल: 07:12:50 से 08:54:25 तक

यह भी पढ़ें: 
Rahu Ke Upay: बुरी आदतों से बचना है तो राहु का करें शांत, राहु के उपाय करने से दुख, पीड़ा और संघर्ष से मिलती है मुक्ति

[ad_2]

Source link

rashtrawadinews_ie0fh4
Author: rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4

ADMIN

rashtrawadinews_ie0fh4 has 10283 posts and counting. See all posts by rashtrawadinews_ie0fh4

Leave a Reply

Your email address will not be published.

hi Hindi
X